छोटा बिजनेस कैसे स्टार्ट करें (पूरा तरीका व जानकारी)

कुछ लोगों को जॉब करना बिल्कुल पसंद नहीं होता है, इस कारण वे अपना खुद का बिजनेस करना चाहते हैं। जब बिजनेस की बात आती है, तो हमारे दिमाग में इनवेस्टमेंट का पहला ख्याल आता है। बिजनेस शब्द से हम अपनी इनवेस्टमेंट को लाखों या करोड़ों रुपए में समझ लेते हैं।

इतनी बड़ी इनवेस्टमेंट हमारे लिए एक सपना होती है। इस कारण हम बिजनेस के आइडिया को अपने दिमाग से निकाल देते हैं। लेकिन आज हम आपको कम इनवेस्टमेंट में छोटा बिजनेस कैसे करे? इसके बारे में बताएँगे।

छोटे बिजनेस भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ माने जाते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 4 करोड़ से अधिक छोटा बिजनेस करते हैं जो तकरीबन 8 करोड़ से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान करते हैं।

छोटे बिजनेस सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 8% से अधिक का योगदान करते हैं। इसके अलावा छोटे बिजनेस कुल मैनुफेक्चुरिंग उत्पादन का 45% और भारत से निर्यात वस्तुओं का 40% हिस्सा प्रदान करते हैं।

भारत सरकार छोटे बिजनेस द्वारा दिए गए जबरदस्त योगदान को अच्छी तरह से पहचानती है और इसलिए कई सब्सिडी योजनाओं और पहलों के माध्यम से उनको सपोर्ट करती है। इसी कारण आज के इस लेख में हम छोटा बिजनेस कैसे करें? इसके बारे में बात करेंगे।

भारत में छोटा बिजनेस

chota business kaise kare

भारत का तेजी से बढ़ता बाजार कुछ बातों को ध्यान में रखते हुए छोटे बिजनेस को शुरू करने का एक बेहतरीन प्लैटफ़ार्म है। एक रिपोर्ट में कहा गया है, कि 2018 में छोटे बिजनेस और स्टार्टअप्स के लिए फंडिंग में 108% की वृद्धि हुई है।

हालिया रिपोर्टों से स्पष्ट हैं कि भारत कितनी तेजी से बढ़ रहा है, जिसमें छोटे बिजनेस के लिए एक बड़ा मार्केट बन रहा है। भारत सरकार द्वारा विभिन्न स्टार्टअप पहल बिजनेसमैन और छोटे व्यापार मालिकों को प्रोत्साहित करने की दिशा में एक बहुत ही अच्छा कदम है।

भारत सरकार बिजनेस करने वालों को विभिन्न प्रकार के आइडिया प्रदान कर रही है। साथ ही उनको फ्युचर में सपोर्ट करने के लिए एक बड़ा प्लान बना रही है। इस तरह से छोटा बिजनेस भारत में बहुत ही फायदेमंद है।

अगर हम सोचते हैं, कि हम बिजनेस में बहुत जल्दी सफल हो जाएंगे। तो यह मानसिकता अभी बहुत कमजोर है। क्योंकि कोई भी बिजनेस सफल बनाने के लिए वर्षों का dedication, दृढ़ता, बिजनेस प्लानिंग, बिजनेस की बढ़िया स्किल और खुद को तैयार करने की आवश्यकता होती है।

इस आर्टिक्ल में आप जानेंगे कि अपनी सफलता का रोडमैप कैसे बनाया जाए। इसलिए यदि आप छोटा बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो कुछ सबसे आवश्यक चीजों के बारे में गहराई से जानें। फिर इनका आपको पालन करना चाहिए या ध्यान में रखना चाहिए।

छोटा बिजनेस कैसे करें?

chota business karne ka sahi tarika

किसी भी बिजनेस को शुरू करना आपके लिए सबसे रोमांचक और बेहतरीन अनुभवों में से एक होता है। लेकिन आप इसकी कहां से शुरूआत करते हैं? अपना खुद का बिजनेस शुरू करने के कई अलग-अलग तरीके हैं, लेकिन किसी भी निर्णय लेने से पहले किस चीज का बिजनेस करना है? इस पर विचार करना आवश्यक है।

इसके अलावा आपके पास कितना समय है, आप इसमें कितना पैसा लगाना चाहते हैं, इसकी आवश्यकता होगी। अगर आप पहली बार किसी बिजनेस को कर रहे हैं। तो हम आपको सबसे पहले छोटा बिजनेस करने की ही सलाह देते हैं।

भारत में चीजें बदल रही हैं, अधिक से अधिक लोग अपने entrepreneurial dream को पूरा करने के लिए छोटा बिजनेस शुरू कर रहे हैं। अलग-अलग लोगों के पास अपना बिजनेस शुरू करने के अलग-अलग कारण होते हैं। जिनमें से कई लोगों के पास एक ग्रेट बिजनेस आइडिया होता है।

यदि आपने भारत में अपना बिजनेस शुरू करने का मन बना लिया है, तो ध्यान रखें कि सफलता या असफलता इस बात पर निर्भर करेगी कि आपके बिजनेस की नींव कितनी ठोस है।

मानो या न मानो, आपको पहले मिलियन, बिलियन रुपयों के बिजनेस के बारे में सोचने की आवश्यकता नहीं है। बस छोटी-छोटी बातों पर ध्यान दें ताकि आप अपना छोटा बिजनेस सफलतापूर्वक शुरू कर सकें।

स्टेप-1. एक बिजनेस आइडिया तैयार करना

एक अच्छा बिजनेस एक अच्छे आइडिया से शुरू होता है। आपके पास अपने छोटे बिजनेस के लिए एक आइडिया होना चाहिए। हमें हमारे अपने बिजनेस आइडिया को अच्छे से समझना होगा। आप जिसका बिजनेस करना चाहते हैं, उसके बारे में अच्छे से समझना बहुत जरूरी है। यह सब आपके बिजनेस को एक अलग ही लेवल पर ले जाएगा।

जब मैकडॉनल्ड्स ने अपना बिजनेस शुरू किया था, तो वह एक छोटा सा रेस्टोरेन्ट था। इसमें अपने ग्राहकों को भगवान मानकर बढ़िया सर्विस दी जाती थी। इसने भविष्य के लिए उनके ब्रांड मूल्य को बढ़ाया। यह हर सफल बिजनेस के साथ सबसे आम है।

एक बार जब आप जान जाते हैं कि किस बिजनेस से शुरुआत करनी है, तो आपको अपने आइडिया पर खरा उतरना होगा। भारत में हॉस्पिटैलिटी, यूटिलिटी, ट्रांसपोर्टेशन, आईटी, डिजिटल मार्केटिंग, फूड और डिफेंस बिजनेस की काफी संभावनाएं हैं।

यह किसी भी भारतीय के लिए बिजनेस करने का एक अच्छा विचार है। आईटी सर्विसेज, डिजिटल मार्केटिंग या कोचिंग और प्रशिक्षण संस्थानों में अपनी फर्म शुरू करने के लिए आपको और अधिक शोध करने की जरूरत है। छोटे बिजनेस के लिए एक आइडिया जानने का तरीका-

  • अपने इंटरेस्ट को समझना- आप अपने खाली समय में क्या करना पसंद करते हैं? क्या ऐसे प्रॉडक्ट हैं जिन्हें आप बेच सकते हैं जो आपके शौक से संबंधित हैं या जो आपकी एक आम समस्या का समाधान करते हैं।
  • प्रोडक्टस पर शोध करें- पोपुलर प्रोडक्टस के बारे में लोग क्या शिकायतें करते हैं? लोग उनमें क्या change चाहते हैं, इस पर आपको अच्छे से जानना होगा।
  • ट्रेंड में चल रहे प्रोडक्टस को देखे- यदि आप देखते हैं कि कोई विशेष प्रॉडक्ट हर जगह बिक रहा है। या उसको बेचकर कुछ लोग बहुत बड़ा मुनाफा कमा रहे हैं, तो आप बिजनेस आइडिया को अपना सकते हैं।

स्टेप-2. अपने बिजनेस आइडिया पर रिसर्च करना

इससे पहले कि आप अपने बिजनेस में कोई पैसा या एफर्ट लगाएं, आपको सबसे पहले बिजनेस आइडिया के वास्तविक तथ्यों और आंकड़ों को अच्छे से समझना होगा। कोई प्रॉडक्ट/सर्विस, जिसकी बाजार में आवश्यकता नहीं  है, उसका बिजनेस करना छोटे बिजनेस की विफलताओं के बड़े कारणों में से एक है।

इसके लिए हमें हमारे प्रॉडक्ट के लिए मार्केट की तलाश करनी होगी। इसके बाद किन ग्राहकों पर ध्यान केंद्रित करना है, इसको जानना होगा। उस बाजार में और कौन पहले से है? हमारे प्रतियोगियों का बिजनेस कितना ठोस है? हमें किस प्रकार के संसाधनों की आवश्यकता होगी? अगर हम प्रॉडक्ट नहीं बना रहे हैं, तो आपूर्तिकर्ता कौन होगा।

हमारे प्रॉडक्ट में ऐसा क्या खास है कि लोग हमारे प्रॉडक्ट को पहले चुनें। इन सभी सवालों का जवाब आपको खुद से पुछना होगा। फिर इन पर रिसर्च कर, इन्हें समझना होगा। कई बार लोग बिजनेस शुरू करने की जल्दी में इन जरूरी बातों को नजरअंदाज कर देते हैं जो उन्हें भविष्य में फेल कर देती हैं।

स्टेप-3. एक बिजनेस प्लान बनाना

किसी भी बिजनेस में प्लानिंग एक ऐसा कार्य है, जो एक नया बिजनेस शुरू करने के लिए रोडमैप के रूप में कार्य करता है। बिजनेस प्लानिंग में हमें इनवेस्टमेंट और बिजनेस मैनेजमेंट को समझना होता है। इससे हमें अपने बिजनेस में आने वाली प्रॉबलम को जानने में मदद मिलती है। एक बिजनेस प्लानिंग में निम्न बातों का ध्यान रखा जाता है-

  • सबसे पहले हमें हमारे बिजनेस के टार्गेट को समझना होगा। फिर उसे पूरा करने के तरीकों को जानना होगा।
  • इसके बाद हमारा प्रॉडक्ट या सर्विस किन समस्याओं का समाधान करती है, और हमारा बिजनेस सबसे अच्छा क्यों है? यह जानना जरूरी है।
  • इसके बाद हम जिस प्रॉडक्ट या सर्विस का बिजनेस करना चाहते हैं, उसमें हमारे competitors कितने मजबूत है। इसके अलावा टार्गेट मार्केट, मार्केट साइज़, ग्रोथ रेट, ट्रेंड्स का एनालिसिस करना होगा।
  • इसके बाद बिजनेस प्लानिंग में हमें हमारे बिजनेस का ऑर्गनाइज़ेशन और स्ट्रक्चर तैयार करना होगा।
  • फिर हमें हमारे प्रॉडक्ट और सर्विस को जानेंगे। हम हमारे ग्राहकों को कौनसे प्रॉडक्ट या सर्विस देते हैं, उसकी कीमत क्या है? बाजार की तुलना में हमारे प्रॉडक्ट या सर्विस में क्या खास है? इसका खाका तैयार करना होगा।
  • बिजनेस प्लानिंग में हम एक मार्केटिंग प्लानिंग भी तैयार करते हैं। इसमें हम अपने बिजनेस को कैसे बढ़ावा देंगे, मार्केटिंग पर कितना पैसा खर्च किया जाएगा और यह कितने समय तक चलने की उम्मीद है।
  • फ़ाइनेंष्यल प्लानिंग हमारे बिजनेस का सबसे मूल आधार है। इसमें हम कितना और कहाँ खर्च करना चाहते हैं, पैसा कहाँ से आएगा? इसके बारे में प्लान बनाते हैं।

स्टेप-4. प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करना

आप अपने बिजनेस के लिए एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करें। जब आपके पास बिजनेस के बारे में ज्ञान की गहराई होती है, तो आपके लिए बाजार की जरूरतों को समझना और अपने अद्वितीय मूल्य प्रस्ताव को प्राप्त करना आसान होगा।

एक बार जब आपके पास यह अनूठी बिजनेस अवधारणा होगी, तो आपको एक रिपोर्ट तैयार करनी चाहिए। जो भारत में आपके छोटे बिजनेस को शुरू करने का रोडमैप होगा।

अगर आप पहली बार बिजनेस कर रहे हैं, तो इस रिपोर्ट को तैयार करने में बहुत समय लगेगा। लेकिन आप पहले भी किसी बिजनेस में हाथ आजमा चुके हैं, तो वह इस प्रक्रिया में बहुत मददगार होगा।

अब कहीं एकांत में बैठ जाओ, अपना लैपटॉप, एक ताजा नोटबुक, एक पेन और एक कॉफी ले लो। अब तक आपने जो कुछ भी सीखा है और कुछ शोध की मदद से नोट्स बनाने से शुरू करें। आपको कम से कम निम्नलिखित बिंदुओं पर गौर करना चाहिए।

  • प्रॉडक्शन के लिए बाजार की मांग क्या है?
  • हमारे बिजनेस में निवेश/वित्तीय स्रोत क्या हैं?
  • बिजनेस चलाने के लिए कौन सा स्थान सबसे अच्छा होगा?
  • कानूनी और विनियम क्या है, जिन्हें पूरा किया जाना है।
  • एक गोल बनाकर, उसे कितने समय में पूरा करना है?
  • सबसे महत्वपूर्ण एक मालिक के रूप में अपनी प्राप्त स्किल, नाम, पहले के पद और योग्यता को रखना न भूलें।

स्टेप-5. बजट और फ़ाइनेंस

अधिकांश छोटे बिजनेस के लिए, बजट शुरुआत में बहुत सीमित होता है, और हम एक-एक रुपया सोच समझकर खर्च करते हैं।आपने सुना होगा कि कई टेक दिग्गज कंपनियाँ फ्लिपकार्ट या पेटीएम आदि एक छोटे अपार्टमेंट से शुरू हुए थे। इस कारण हमें बड़े और फ़ैन्सी ऑफिस पर ज्यादा खर्चा नहीं करना है।

हमें शुरुआत में सही लोगों को काम पर रखना होगा, हालांकि यह एक कठिन काम है। परंतु यह बिजनेस की सफलता का सबसे महत्वपूर्ण कारक है। एक टीम बनाएं जो बिजनेस के लिए आपके समान दृष्टिकोण रखें, साथ ही उनमें आपसे बेहतर स्किल होनी चाहिए।

आप कर्मचारियों को केवल काम पर रखने के लिए किराए पर न लें। उन्हें केवल तभी जॉब दें, जब आपको इसकी आवश्यकता हो और उनकी स्किल में कोई कमी नहीं होनी चाहिए। जब तक आप बिजनेस से पैसा नहीं कमाते, तब तक हर दूसरी लागत को न्यूनतम रखें।

छोटा बिजनेस करने के लिए आमतौर पर या तो खुद के पैसे लगाते हैं, या परिवार और दोस्तों से धन लेकर इसकी शुरुआत करते हैं। आपको अपने बिजनेस को लॉन्च करने के लिए कितने पैसे की आवश्यकता होगी, इसका उचित अनुमान लगाने की आवश्यकता होती है।

स्टेप-6. बिजनेस के लिए लोकेशन सिलेक्ट करें

यदि आप कोई बिजनेस शुरू कर रहे हैं, तो आपको इसके लिए एक बेस्ट लोकेशन चाहिए। आपकी लोकेशन आपके बिजनेस के भौतिक पते के प्रमाण के रूप में कार्य करती है। आपको जिसका बिजनेस करना है, उसके तहत ही लोकेशन सिलेक्ट करनी है।

इसको मैं एक उदाहरण से समझाता हूँ। अगर आप किताबों का बिजनेस शुरू कर रहे हैं, तो आपको किसी स्कूल, कॉलेज या कोचिंग सेंटर के पास ही इसे स्टार्ट करना होगा।

आपके बिजनेस की सही लोकेशन ही इसे सही दिशा में ले जाती है। हालांकि अगर आप कोई ऑनलाइन छोटा बिजनेस करना चाहते हैं, तो आप इसे कहीं से भी स्टार्ट कर सकते हैं। ऑनलाइन बिजनेस में लोकेशन ज्यादा मायने नहीं रखती है।

स्टेप-7. छोटे बिजनेस की स्ट्रक्चर तैयार करना

इसके बाद में आपको अपने बिजनेस की स्ट्रक्चर तैयार करनी होगी। फिर जैसे-जैसे आपका बिजनेस बढ़ता है, फिर उसमें अधिक सुधार की आवश्यकता होती है। इसके बाद हम उसका पुनर्मूल्यांकन कर, उसमें परिवर्तन कर सकते हैं।

ऐसे कुछ कारक हैं जिन पर आपको विचार करने की आवश्यकता होती है-

  • आपका बिजनेस कहाँ स्थित है- हमें हमारे बिजनेस की लोकेशन के लिए क्या आवश्यक है, इस पर कार्य करना होगा। फिर हमें कानूनी पर्मिशन की जरूरत है, या नहीं। इन बातों को ध्यान रखकर हम अपने बिजनेस की स्ट्रक्चर तैयार करते हैं।
  • आप किस तरह का बिजनेस चला रहे हैं- आप किस तरह का बिजनेस कर रहे हैं, इसके हिसाब से भी बिजनेस का स्ट्रक्चर तैयार करना होगा।
  • आपके छोटे बिजनेस में कितने लोग शामिल हैं- यदि आप इसे अकेले स्टार्ट कर रहे हैं, तो आप सुव्यवस्थित विकल्पों को देखने में सक्षम हो सकते हैं। मान लीजिए कि आपके पास एक बिजनेस पार्टनर हैं। उस स्थिति में आपको बिजनेस सेट करने के लिए ज्यादा ध्यान देना होगा।

स्टेप-8. एक बढ़िया प्रॉडक्ट तैयार करें

छोटा बिजनेस शुरू करते समय, आपके प्रॉडक्ट या सर्विस अच्छा होना चाहिए। आपको अपने कंपीटीशन में बैठे लोगों से बढ़िया क्वालिटी देनी है। बाकी सब कुछ इसी मूल सिद्धांत से चलता है।

अपने प्रॉडक्ट को बाजार में लाने के लिए अपने पैरों को न खींचें, क्योंकि शुरुआती ग्राहक प्रतिक्रिया आपके प्रॉडक्ट को बेहतर बनाने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। इसीलिए तो कहते हैं, कि “फ़र्स्ट इंप्रेशन इज द लास्ट इंप्रेशन।”

चूंकि आप एक छोटे प्रॉडक्ट के साथ बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, लेकिन वह प्रॉडक्ट भी अच्छा होना चाहिए और आपके कंपीटिटर से अलग होना चाहिए। हम हमारे प्रॉडक्ट और ग्राहक के बीच के संतुलन को समझाना होगा।

याद रखें आप अपने ग्राहकों के लिए समाधान ही आपके बिजनेस में सफलता का मंत्र है। इस तरह से आपको अपने बिजनेस और ग्राहकों के प्रति पूरी तरह से ईमानदार रहना है।

केवल एक चीज जो आपके छोटे बिजनेस को सफल बनाएगी वह है बिक्री। पहले दिन से बिक्री पर ध्यान दें, न कि मार्जिन पर। आपको बस यह मानसिकता रखनी चाहिए। अपने पास मौजूद संसाधनों के साथ पहले भुगतान करने वाले ग्राहक खोजें।

एक बार जब आपके पास भुगतान करने वाला ग्राहक होगा, तो बाकी सब कुछ आसानी से हो जाएगा। मार्केटिंग पर आपके द्वारा खर्च किया जाने वाला प्रत्येक रुपया शुरुआती दिनों में बिक्री पर केंद्रित होना चाहिए। आपको ज्यादा से ज्यादा बिक्री करनी है, ताकि आपके पास पैसों का आदान-प्रदान होता रहें।

स्टेप-9. बिजनेस को लॉंच करना

बस अब आपको अपना बिजनेस शुरू करने के लिए लास्ट स्टेप उठाना है- बिजनेस को लॉंच करना। आपके द्वारा पहले से की गई तैयारी ने बिजनेस को लॉंच करने के लिए एक ठोस नींव रख दी है। इसलिए अब आप मार्केटिंग पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं और अपनी पहली बिक्री कर सकते हैं।

इसके बाद आपको अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए कुछ बातों को ध्यान रखना होगा। जैसे की-

  • अपने नेटवर्क का लाभ उठाएं: अपने बिजनेस को सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण उन निःशुल्क प्लैटफ़ार्म पर प्रचारित करें जो आपके लिए पहले से उपलब्ध हैं। जिसमें आपकी सोशल मीडिया और contact list शामिल हैं।
  • लोगों को मैसेज करना- एक सोश्ल शेयर जितना सरल होता है, यह उतना ही ज्यादा लोगों को जोड़ता है। आपके छोटे बिजनेस के भविष्य की सफलता के लिए अच्छे संबंध बनाना महत्वपूर्ण है।
  • प्रोडक्टस पर छूट देना- आप शुरुआती ग्राहकों को छूट के साथ प्रॉडक्ट बेच सकते हैं, जो आपके लाभ मार्जिन के साथ फिट बैठता है। यह आपको जल्दी से बिक्री बढ़ाने में मदद करता है, खासकर जब आपका प्रॉडक्ट नया हो और ग्राहकों को एक साथ जोड़ना हो।
  • पैड एड्स का सहारा लेना- भले ही आप एक छोटे बजट से बिजनेस शुरू करते हैं, पैड एड्स आपके ग्राहकों को आप तक पहुंचाने में मदद कर सकता है। इससे आपको अपनी पहली कुछ बिक्री बढ़ाने में मदद मिल सकती है और जैसे-जैसे आपका बिजनेस बड़ा होता जाता है, वैसे-वैसे आप इस पर ज्यादा पैसे भी खर्च कर सकते हैं।

स्टेप-10. लगातार फोकस रखे और बिजनेस बढ़ाते रहें

एक बार जब आप अपना छोटा बिजनेस शुरू कर लेते हैं, तो इसे प्रमुख और सफल बनाने का समय आ गया है। कई छोटे बिजनेस विफल हो जाते हैं, क्योंकि उसे चलाने वाले अपना ध्यान खो देते हैं और जल्दी से स्विच कर लेते हैं।

मेरी एक ही सलाह है कि हमेशा focused रहें और चलते रहें, कभी भी विचलित न हों। इस कंपीटीशन की दुनिया में बिजनेस शुरू करना और पहले से मौजूद बिजनेस को चुनौती देना हमेशा कठिन होता है।

हालाँकि आपको यह भी समझना चाहिए कि यदि आप अपने ग्राहकों के लिए बेहतर कर रहे हैं, तो आपको निश्चित रूप से जीत मिलेगी। आपकी क्वालिटी ही आपके ग्राहकों को जोड़ने का एक मंत्र है।

इन सबसे ऊपर प्रत्येक बिजनेस में नैतिक मूल्य होने चाहिए, जो बिजनेस को हर कदम पर मार्गदर्शन करेंगे। आपके बिजनेस को बढ़ाने के लिए रोडमैप तैयार करते समय ध्यान केंद्रित करना महत्वपूर्ण है।

इनको भी पढ़े:

निष्कर्ष:

तो दोस्तों ये था अपना खुद का छोटा बिजनेस कैसे करें, हम उम्मीद करते है की इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको स्माल बिजनेस करना का सही तरीका व पूरी जनकारी मिल गयी होगी.

अगर आपको ये पोस्ट हेल्पफुल लगी तो प्लीज इसको शेयर जरुर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग अपना छोटा बिजनेस शुरू कर पाए.

Click Below To Share

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.