बिजनेस कैसे बढ़ाएं 12 उपाय व तरीके | Business Growth Tips in Hindi

बिजनेस एक ऐसा शब्द है, जिसको सुनकर एक Proud फीलिंग आती है। कोई भी व्यक्ति जो बिजनेस करता है, तो उसे एक बिजनेसमैन कहा जाता है। बिजनेस में काम, प्रॉफ़ेशन, ट्रेड और कमर्शियल एक्टिविटी होती है।

बिजनेस में लोगों को पैसों के बदले प्रॉडक्ट या सर्विस प्रोवाइड की जाती है। भारत में ज़्यादातर लोग छोटे बिजनेस पर ध्यान देते हैं। देश की जीडीपी में इन छोटे बिजनेस का बहुत बड़ा रोल है। आज के समय में बहुत से लोग ऐसे हैं, जिन्होंने बिजनेस तो शुरू कर लिया है, लेकिन उनको प्रॉफ़िट ज्यादा नहीं हो रहा है।

उनके द्वारा कुछ गलतियाँ होती रहती है, जिनसे उनका बिजनेस ग्रो नहीं होता है। इसलिए उन गलतियों में सुधार करके ही हम बिजनेस को ग्रो कर सकते हैं। हालांकि किसी भी बिजनेस को ग्रो करना बहुत मुश्किल होता है, लेकिन हमें तो करना ही है, चाहे मुश्किल हो या आसान।

किसी भी बिजनेस में सफलता के पीछे बहुत से factor होते हैं, जैसे एक्सपर्ट स्टाफ, स्ट्रॉंग मैनेजमेंट, अच्छा इनवेस्टमेंट, बढ़िया लोकेशन, लगातार मांग में रहने वाला प्रॉडक्ट आदि शामिल है।

भारत एक ऐसा देश है जो तेजी से बढ़ रहा है। एक बिजनेसमैन को भारत में अपने बिजनेस बढ़ाने के लिए कई बातों का ध्यान रखना चाहिए। आजकल तो कई ऐसे भी व्यक्ति है, जो दुनिया के विभिन्न हिस्सों से आकार भारत में अपना बिजनेस बढ़ा रहे हैं।

बिजनेस बढ़ाने के 12 उपाय व तरीके

business badhane ke upay

जब भी कोई अपना बिजनेस शुरू करता है, तो उसे बहुत से सपने होते हैं। एक entrepreneur की हमेशा चाहत रहती है, कि उनके बिजनेस के प्रॉडक्ट या सर्विस अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे और बिजनेस एक ब्रांड बन जाए। लेकिन यह जितना पढ़ने में आसान है, हकीकत में उतना ही मुश्किल है।

अपने बिजनेस को कैसे ग्रो करें? इसका कोई सीधा जवाब नहीं है। साथ ही रातोंरात कुछ भी change नहीं होता है। तो क्या आपको बड़े सपने देखना बंद कर देना चाहिए?

बिलकुल नहीं! अधिक चाहने में कुछ भी गलत नहीं है। लेकिन आपको खुद को सफलता की राह पर बनाए रखने के लिए सही समय पर सही प्रयास करने की जरूरत है। आपको बस इसके लिए कुछ बातों को ध्यान रखना होगा, जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं।

1. ग्राहकों की जरूरतों को समझें

भारत में ग्राहकों को लुभाने की योजना के साथ, यह समझना महत्वपूर्ण है कि वे क्या खोज रहे हैं और आप उनकी जरूरतों को कैसे पूरा कर सकते हैं। याद रखें कि भारत एक ऐसा स्थान है जहां कई लोग एक ही बिजनेस में काफी कंपीटीशन करते हैं।

इसलिए आपको कुछ अलग करने की आवश्यकता है जो ग्राहकों के लिए उपयोगी हो। आप ग्राहकों से पूछ सकते हैं और जान सकते हैं कि किस क्षेत्र में क्या कमी है और आप उन्हें खुश रखने के लिए कैसे इस कमी को पूरा कर सकत हैं।

क्राउडसोर्सिंग की मदद से हम लोगों से उनकी राय ले सकते हैं। इस आइडिया ने लेगो, नेटफ्लिक्स और मैकडॉनल्ड्स जैसे बड़े ब्रांडों को फायदा पहुंचाया है, लेकिन यह किसी भी बिजनेस को ग्रो करने में मदद कर सकता है।

भारत में ऐसे कई बिजनेस है, जो ग्राहकों के सवालों के जवाब देने के लिए अपने ऑनलाइन कम्यूनिटी का उपयोग करते हैं। आप भी अपने बिजनेस के लिए ग्राहकों से उनके आइडिया ले सकते हैं। अगर उनका आइडिया आपको पसंद आए तो आप उन्हें गिफ्ट देकर उनको आकर्षित कर सकते हैं।

2. रिस्क लेने से न डरें

यदि आपने अभी-अभी अपना बिजनेस स्टार्ट किया है। आप कुछ भी नहीं कर रहे हैं और कोई जोखिम नहीं ले रहे हैं तो आपका बिजनेस कभी ग्रो नहीं करेगा। सफल होने के लिए आपको उस रिस्क को लेना होगा जो आपके बिजनेस को विकसित और ग्रो करने में मदद करेगा।

ज़्यादातर लोग रिस्क को बाधाओं के रूप में समझते हैं जो उनके बिजनेस को बढ़ने से रोक रहे हैं। लेकिन आप अपने एट्टीट्यूड में बदलाव लाकर इसे एक अवसर के रूप में समझ सकते हैं। रिस्क बिजनेस का दूसरा नाम है। जब हम बिजनेस शुरू करते हैं, उसी के साथ रिस्क शुरू हो जाता है।

यदि आप रिस्क लेने के बाद भी अपने बिजनेस में फ़ेल हो जाते हैं, तो इसे एक विफलता के रूप में न समझें। इसके बजाय इससे सीखें और पता करें कि आपके बिजनेस के लिए क्या सही है, यह कहाँ गलत हुआ और फिर वहीं फिर से शुरू करें।

3. इम्प्रूव कस्टमर सर्विस

रिसर्च से पता चलता है कि अगर ग्राहकों को अच्छी सर्विस मिलती है, तो वे कंपनी के बारे में अपने नजदीक के दो या तीन लोगों से जरूर बात करते हैं। ग्राहक किसी भी बिजनेस का हार्ट होते हैं और इसलिए उन्हें बढ़िया कस्टमर सर्विस प्रोवाइड करना महत्वपूर्ण होता है।

आपके ग्राहक जितने खुश होंगे, वे आपके ब्रांड और शॉप से उतनी ही ज्यादा बार लौट कर आएंगे। 86% कस्टमर प्रॉडक्ट से अधिक कस्टमर सर्विस को महत्व देते हैं। आप अपने कस्टमर से जीतने अधिक फ्रेंडली होंगे, वो आप पर उतना ही ज्यादा भरोसा करेंगे।

एक बार जब वे आप भरोसा करने योग्य हो जाते हैं, तो उनका दिखाना चाहिए कि आप उनकी परवाह करते हैं। कुछ ऐसी कॉमन सी बाते हैं, जिससे आप कस्टमर सर्विस को बढ़ा सकते हैं।

4. ग्राहक फीडबैक को समझें

क्या आप जानते हैं कि लगभग 80% कंपनियां इस बात की पुष्टि करती हैं कि वे बढ़िया कस्टमर एक्सपिरियन्स प्रदान करती हैं, जबकि एक अध्ययन से पता चलता है कि इससे केवल 8% ग्राहक ही सहमत होते हैं?

अच्छी ग्राहक सेवा प्रदान करने के लिए, किसी भी कंपनी को पहली चीज जो करने की आवश्यकता होती है, वह है ग्राहकों के फीडबैक को अच्छे से समझना। आपके ग्राहकों द्वारा प्रदान दिया जाने वाला फीडबैक सीधे उनके प्रॉडक्ट खरीदारी से जुड़ा होता है।

प्रत्येक खरीददारी के बाद अपने ग्राहकों को फीडबैक फॉर्म भेजें ताकि वे अपने एक्सपिरियन्स को रेट कर सकें। केवल रेटिंग स्टार्स न जोड़ें, उन्हें भी कुछ लिखने दो। आदर्श रूप से यह बैकएंड के माध्यम से भी किया जाना चाहिए और इसके लिए सही चैनल ईमेल और चैट होगा।

आप अपने प्रत्येक ग्राहक के रिवियू को समझें। अगर किसी कस्टमर का फीडबैक नेगेटिव है, तो उस पर आपकी कंपनी को काम करना चाहिए। नेगेटिव रिवियू आपको उन खामियों और कमियों को समझने में मदद करेंगी जिन्हें ठीक करने की आवश्यकता है।

अगर किसी ग्राहक का फीडबैक पॉज़िटिव है, तो अपने दूसरे ग्राहकों को यह बताने के लिए उनका उपयोग करें कि आपका प्रॉडक्ट और बिजनेस कितना अच्छा है। आप इसके लिए बहुत से ऑनलाइन प्लैटफ़ार्म का यूज कर सकते हैं।

5. यूजर रिपोर्ट

UserReport में एक से अधिक सुविधाओं के साथ एक यूजर फीडबैक है। यह आपको यह पता लगाने देता है कि आपके कस्टमर की वास्तविक ज़रूरतें क्या हैं ताकि आप उन्हें बढ़िया प्रॉडक्ट और सर्विस प्रदान कर सकें।

यूजर रिपोर्ट फीडबैक और सर्वे विजेट पर बनाया गया है। इसके अलावा UserReport को आसानी से किसी वेबसाइट या ऐप में एकीकृत किया जा सकता है।

सर्वे विजेट के बारे में एक अच्छी बात यह है कि यह समझने के लिए एक नेट प्रमोटर स्कोर प्रदान करता है। जिसमें आपके कस्टमर आपके प्रॉडक्ट और सर्विस पर कितनी अच्छी प्रतिक्रिया देते हैं।

6. मार्केटिंग

आप जहां भी जाते हैं, किसी बिजनेस के सफल होने के लिए मार्केटिंग सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है और हम उसके महत्व को जानते हैं। भारत में ऐसे कई तरीके हैं जिनसे आप अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते हैं और इससे आपको बढ़िया रिजल्ट प्राप्त होंगे।

उदाहरण के लिए यदि आप अपने ब्रांड को जनता के बीच लाना चाहते हैं, तो आप इसे टीवी, गूगल, यूट्यूब, सोश्ल मीडिया आदि पर मार्केटिंग कर सकते हैं। यह आपके ब्रांड के लिए एक आधार स्थापित करने में आपकी मदद करता है और मार्केटिंग की लागत आपकी आवश्यकताओं के अनुसार तय की जाती है।

इस मामले में एक स्मार्ट स्ट्रेटजी का विकल्प चुनें क्योंकि गलत मार्केटिंग करने से आपके लिए समस्याएँ पैदा हो सकती हैं या यह उतना फायदेमंद नहीं हो सकता जितना आपने उम्मीद की थी। इसलिए सुनिश्चित करें कि आपने कार्य में मदद करने के लिए एक बढ़िया मार्केटिंग टीम का चयन करें।

7. मार्केट रिसर्च करें

बिजनेस में अपने कंपीटिटर को जानने के लिए मार्केट रिसर्च करना बहुत जरूरी है। फिर आपको उस प्रॉडक्ट का पता लगाना है, जिसकी मार्केट में कमी है। जो आपके बिजनेस से जुड़ी हुई है।

आप अपने कंपीटिटर को मात देने के लिए अपने प्रॉडक्ट या सर्विस का रेट कम भी कर सकते हैं। बस इस बात का ध्यान रखें कि इसमें आपको ज्यादा नुकसान न हो। इसके बाद आपको अपने टार्गेटेड कस्टमर को खोंजना है, ताकि आप उन तक अपने प्रॉडक्ट को पहुंचा सके।

8. वर्तमान में आपके पास क्या है?

आज आपके पास बिजनेस में क्या है? जैसे कर्मचारी, पैसे, ईक्विपमेंट, कस्टमर आदि। आपके पास जो एम्पलॉय वर्तमान में काम कर रहे हैं, उनको समझना बहुत जरूरी है। क्या वो पूरी कुशलता से काम कर रहे हैं? कहीं स्टाफ की कमी तो नहीं है। इससे यह भी अंदाजा हो जाएगा कि नए कर्मचारियों को काम पर रखना है या नहीं।

इसके अलावा आपके बिजनेस में उपयोग होने वाली मशीनरी और उपकरणों का विश्लेषण करना भी महत्वपूर्ण है। उनकी काम करने की स्थिति के बारे में जानना महत्वपूर्ण है, चाहे उन्हें मरम्मत की आवश्यकता हो या ठीक काम कर रहे हों या नए उपकरण खरीदने हैं।

अपनी फ़ाइनेंष्यल कंडिशन और अपनी वर्तमान ऑफरस पर भी एक नज़र डालें ताकि आप यह तय कर सकें कि आपको विभिन्न स्थानों पर एक नया स्टोर स्थापित करने की आवश्यकता है या नए प्रॉडक्ट/सर्विस को पेश करने की आवश्यकता है।

इसके अलावा आपको पैसों को बहुत सोच-समझकर लगाना होगा। आप जो मशीनरी या टूल्स खरीद रहे हैं, उनमें हद से ज्यादा पैसे न खर्च हो जाए। आपको अपने बिजनेस को ग्रो करने के लिए लगातार परिवर्तन करने होंगे।

9. सोशल मीडिया की पावर का इस्तेमाल करें

सोशल मीडिया हजारों ग्राहकों तक पहुंचने का एक शक्तिशाली तरीका है। शोध से पता चलता है कि 77.6% छोटे बिजनेस अपने बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते हैं।

लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे इंस्टाग्राम, फेसबुक, ट्विटर, पिनटेरेस्ट आदि पर अपने ब्रांड के बारे में जागरूकता पैदा करें। ग्राहकों से जुड़ें और उनके व्यवहार के बारे में जानने के लिए उनके कमेंट को पढ़ें।

सोशल मीडिया पर अपने बिजनेस की मार्केटिंग करना बजट के अनुकूल है। और यही कारण है कि जब कोई पूछता है कि “बिजनेस को कैसे ग्रो करें” तो यह हमेशा टॉप आइडिया में से एक होता है।

10. स्किलड एम्पलॉय को जॉब पर रखें

किसी बिजनेस का प्राथमिक घटक उसके कर्मचारी होते हैं। ऐसे भावुक लोगों की तलाश करें, जिन्हें आपके साथ काम करने में मज़ा आता हो। अगर आपकी कंपनी में कुशल और मेहनती लोगों का एक ग्रुप है, तो आपको सफलता से कोई नहीं रोक सकता।

हालांकि ज्यादातर समय, कर्मचारियों की अनदेखी या उपेक्षा की जाती है। इसलिए उन्हें खुश और व्यस्त रखने के लिए प्रभावी तरीके अपनाएं और हर संभव तरीके से उनकी मदद करें। आखिरकार वे वही हैं जो सीधे आपके ग्राहकों से जुड़ते हैं। और सबसे बढ़कर वे आपके बिजनेस की रीढ़ हैं।

11. अपने बिजनेस की ब्रांच बनाएँ

इसके लिए आप किसी अन्य जगह पर अपनी ब्रांच भी खोल सकते हैं। जिसमें आपको बस अपना ब्रांड नाम ही देना होगा। चूंकि आपका बिजनेस पहले से ही स्टार्ट हो चुका है, इस कारण आपके बारे में लोग अच्छे से जानते होंगे।

आप अपने शहर के दूसरे क्षेत्र या दूसरे शहर में अपना बिजनेस ले जा सकते हैं। जिस जगह आपका मैन ऑफिस होगा, उसे हैडक्वार्टर कहते हैं। इसके अलावा अलग-अलग जगहों पर खोले गए ऑफिस या दुकान आपकी ब्रांच होगी।

आप एक जगह से इन सभी को ऑपरेट कर सकते हैं। सप्ताह में एक बार इन ब्रांच का आप दौरा कर सकते हैं। इससे आपका प्रॉडक्ट और अधिक बिकेगा और आपके बिजनेस की पहुँच भी अधिक होगी।

12. दूसरे बिजनेस के साथ पार्टनर्शिप करें

यदि आप एक छोटे बिजनेस के मालिक हैं तो आप अन्य छोटे बिजनेस के साथ पार्टनरशिप कर सकते हैं जो आपके बिजनेस को ग्रो करने में मदद कर सकते हैं। आप अपने बिजनेस से संबधित बिजनेस में पार्टनरशिप कर सकते हैं।

यदि आप अपने स्वयं के मार्केट से किसी के साथ पार्टनर्शिप करना चुनते हैं तो आप दोनों को एक संयुक्त प्रस्ताव या एक सौदा करना चाहिए जिससे ग्राहक दोनों ब्रांडों के लाभों का आनंद उठा सकें।

इस तरह आपका ग्राहक आधार बढ़ेगा क्योंकि दूसरे बिजनेस के ग्राहक भी आपके प्रोडक्टस को आजमाएंगे और अगर वे उन्हें अच्छा पाते हैं तो आपका बिजनेस निश्चित तौर पर ग्रो करेगा।

यदि आप किसी अलग मार्केट के किसी व्यक्ति के साथ पार्टनर्शिप करना चुनते हैं तो इससे आपके बिजनेस को भी लाभ हो सकता है। हमारे पास मैकडॉनल्ड्स और कोका-कोला की पार्टनर्शिप का प्रमुख उदाहरण है। दोनों ब्रांड अलग-अलग प्रॉडक्ट पेश करते हैं लेकिन एक साथ पार्टनर्शिप से दोनों को लाभ हो रहा है।

इनको भी जरुर पढ़े:

निष्कर्ष:

तो दोस्तों ये था बिजनेस कैसे बढ़ाये, हम उम्मीद करते है की इस आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद आपको बिजनेस बढ़ाने के आसान उपाय व तरीके पता चल गए होंगे.

अगर आपको हमारी ये बिजनेस ग्रोथ टिप्स अच्छी लगी तो प्लीज इसको शेयर जरुर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग अपने छोटे बिजनेस को बड़ा कर सके और अधिक प्रॉफिट कमा पाए.

Click Below To Share

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.