शिव पुराण के अनुसार पुत्र प्राप्ति के 13 अचूक उपाय

आज हम आपको बताएंगे आप शिव पुराण के अनुसार पुत्र की प्राप्ति किस प्रकार कर सकते हैं क्योंकि शिवजी को हमारे पुराणों में सबसे शक्तिशाली देवता माना गया है वह देवों के देव महादेव हैं वह अपने भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी कर देते हैं।

जिन भक्तों के कोई भी संतान नहीं होती है या फिर जिनको पुत्र नहीं होते हैं और वह बहुत ज्यादा दुखी रहते हैं अगर वह लोग शिव पुराण के अनुसार कुछ उपाय करते हैं तो उन्हें पुत्र की प्राप्ति हो जाती है क्योंकि पुराने समय से लेकर यह मान्यता है अगर हम शिव पुराण में लिखें उपायों को करेंगे, तो हमें पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी।

क्योंकि यह सबसे शक्तिशाली ग्रंथ माना गया है हमारे यहां पर शिव पुराण की अपनी अलग ही महिमा रही है जिस वजह से हमारे यहां ग्रंथ पुराण बहुत ही पवित्र माने जाते है तो आज हम आपको बताएंगे कि आप शिव पुराण के अनुसार किस प्रकार पुत्र की प्राप्ति कर सकते हैं बस आपको उन उपायों को पूरे विधिपूर्वक करना पड़ेगा।

तभी जाकर आपको पुत्र की प्राप्ति हो पाएगी और उसमें जो भी नियम लिखें हैं आपको वह सब करने पड़ेंगे क्योंकि अगर आप नियमों को नहीं मानते हैं तो इससे आपका उपाय विफल हो जाता है तो आज हम आपको बताते हैं कि आप शिव पुराण के अनुसार किस प्रकार पुत्र प्राप्त कर सकते हैं।

शिव पुराण के अनुसार पुत्र पाने के 13 सरल उपाय

shiv puran ke anusar putra prapti ke upay

यदि आप पुत्र की इच्छा रखते हैं तो आपको शिव पुराण के अनुसार कुछ उपाय करने चाहिए, क्योंकि उसमें बहुत सारे ऐसे उपाय लिखें हैं जिन्हें अगर आप पूरी श्रद्धापूर्वक करते हैं तो आपको पुत्र की प्राप्ति होती है तो आज हम आपको बताएंगे कि आप वह उपाय किस प्रकार कर सकते हैं और उन्हें करने से आपको कैसे पुत्र की प्राप्ति होगी।

1. श्रावण मास की एकादशी का उपाय

अगर काफी कोशिश करने के बाद भी आपको पुत्र की प्राप्ति नहीं हो रही है और आपको सिर्फ पुत्रियां ही हो रही है तो आपको यह उपाय जरूर करना चाहिए, अगर आप इस उपाय को करेंगे तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी इसके लिए आपको श्रावण मास में पड़ने वाली पुत्र एकादशी को सुबह जल्दी ब्रह्म मुहूर्त में उठ जाना चाहिए।

इसके बाद आपको नहा धोकर साबूदाना या फिर चावल की खीर बनानी चाहिए फिर एक छोटी सी कटोरी में उस खीर को रख लेना चाहिए और एक छोटी सी कटोरी में गाय का दूध को रखना चाहिए, इसके बाद आपको पूजा की थाली तैयार करनी चाहिए और फिर शिवजी के मंदिर जाना चाहिए।

थाली में आपको दो बेलपत्र और सारी पूजा की सामग्री रखनी चाहिए, इसके बाद मंदिर आने के बाद आपको सबसे पहले भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए और उन दोनों कटोरियों को शिवजी के समक्ष रख देना चाहिए, इसके बाद आपको शिवजी के ऊपर वही दोनों बेलपत्री चढ़ानी चाहिए और फिर कुछ देर बाद उन दोनों बेलपत्री को उठा लेना चाहिए और शिवजी के चौखट पर घी का दीपक जलाना चाहिए।

फिर उसी चौखट पर बैठकर एक बेलपत्री को खा लेना चाहिए और एक बेलपत्री को घर पर लाकर अपने पति को खिला देना चाहिए, अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी क्योंकि यह चीज शिव पुराण में खुद लिखी हुई है यह उपाय कभी भी विफल नहीं जाता है और जो भी इस उपाय को करता है उसे पुत्र की प्राप्ति जरूर होती है।

2. नारियल का उपाय

अगर स्त्रियों को पुत्र नहीं हो रहे हैं तो उनको यह उपाय जरूर करना चाहिए, अगर वह यह उपाय करती हैं तो उन्हें पुत्र जरूर प्राप्त होता है इसके लिए उन्हें एक नारियल लेना चाहिए और एक लाल या फिर पीला नया वस्त्र लेना चाहिए आपको इतना बड़ा कपड़ा लेना चाहिए कि आप नारियल पर सात या पांच बार लपेट सकें।

फिर आपको सोमवार वाले दिन शिवजी के मंदिर जाना चाहिए और नारियल पर उन्ही के सामने कपड़ा लपेटना चाहिए और मन ही मन पुत्र प्राप्ति की कामना करनी चाहिए और जब आप नारियल को शिवजी के पास रखें तो अपना नाम और गोत्र जरूर बोलना चाहिए।

और फिर आपको बिना पीछे देखें वहां से आ जाना चाहिए अगर आप यह उपाय करती हैं तो शिवजी की कृपा से आपको जल्दी ही पुत्र की प्राप्ति होती है यह उपाय बहुत ही सरल होता है बस आपको इसे विधिपूर्वक करना होता है इस उपाय की कृपा से आपको जल्द ही पुत्र मिल जाता है।

3. लाल और पीले चन्दन का उपाय

अगर काफी कोशिश करने के बाद भी आपको पुत्र की प्राप्ति नहीं हो रही है तो आपको यह उपाय जरूर करना चाहिए, अगर आप इसे पूरी श्रद्धाभाव से करती हैं तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होती है इसके लिए आपको लाल और पीला चंदन लेना चाहिए इसी के साथ आपको एक बेलपत्र भी लेनी चाहिए।

आपको सबसे पहले घर पर ही ब्रह्म मुहूर्त में नहा धोकर तैयार हो जाना चाहिए, फिर आपको एक बेलपत्र पर पीला चंदन और दोनों बेलपत्र पर लाल चंदन लगाना चाहिए और फिर लाल चंदन को लेकर और जल लेकर किसी भी शिव मंदिर आ जाना चाहिए, इसके बाद आपको सबसे पहले शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए और जो जल नीचे की तरफ गिर रहा हो उस जल को हाथ में लेकर पी लेना चाहिए।

और फिर बाद में हाथ को धो लेना चाहिए इसके बाद आपको शिवजी का अच्छी तरह से श्रृंगार करना चाहिए यानी कि लाल चंदन से शिवलिंग का अच्छी तरीके से लेप करना चाहिए, इसी के साथ माता पार्वती और अशोक सुंदरी का भी लाल चंदन से लेप करना चाहिए और फिर आपको एक लोटा जल फिर चढ़ाना चाहिए।

और फिर उस बेलपत्री को भी चढ़ाना चाहिए पर आपको यह सब करते समय मन ही मन पुत्र प्राप्त की कामना भी करनी चाहिए, अगर आप ऐसा रोजाना करेंगे तो आपको जल्द ही पुत्र की प्राप्ति होगी क्योंकि अगर स्त्रियां पूरे श्रद्धाभाव से इस क्रिया को करती है तो भोलेनाथ उन पर जल्दी प्रसन्न होते हैं और वह उन्हें पुत्रवती होने का आशीर्वाद देते हैं।

4. पारिजात के फूल का उपाय

अगर किसी कारण आपके पुत्र नहीं हो रहा है तो आपको इस उपाय को करना चाहिए, यह उपाय आप शिवरात्रि या सोमवार या फिर सोमवार की अष्टमी को भी कर सकती हैं इसके लिए आपको 50 से 60 पारिजात के फूलों की आवश्यकता होगी, आपको फूल इकट्ठे करने के बाद जो भीतर पीले वाला भाग होता है उसे निकाल लेना चाहिए।

और फिर इसे छाया में सुख लेना चाहिए, जब यह अच्छी तरह से सुख जाये तो आपको इसका पाउडर बना लेना चाहिए, इसे केसरी चंदन कहा जाता है इसके बाद आपको सोमवार वाले दिन इसी चंदन को लेकर शिव मंदिर जाना चाहिए और एक पारिजात का फूल लेकर जाना चाहिए।

सबसे पहले आपको यह फूल अशोक सुंदरी वाले स्थान पर चढ़ाना चाहिए, ध्यान रखना चाहिए कि डंठल शिवजी की तरफ हो और फूल अशोक सुंदरी की तरफ हो इसके बाद आपको फुल उठाकर पार्वती मां को अर्पित करना है और ध्यान रखना चाहिए डंठल शिवजी की तरफ हो और फूल माता पार्वती की तरफ हो।

इसके बाद आपको वह फूल उठाकर शिवजी पर चढ़ना और डंठल शिवलिंग की तरफ हो और फूल आपकी तरफ हो इसके बाद आपने जो केसरी चंदन बनाया था उसी से शिवलिंग त्रिपूर्ण बनाना चाहिए, अगर आप इस प्रकार शिवलिंग की पूजा करते हैं तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होती है आप यह उपाय नियमित रूप से कर सकती हैं जिससे आपके ऊपर शिवजी की कृपा होगी और आपको जल्दी ही पुत्र की प्राप्ति हो जाएगी।

5. आक की जड़ का उपाय

इस उपाय को पति पत्नी दोनों को करना चाहिए तभी यह सफल होता है इसके लिए दोनों को जाकर सफेद आक की जड़ ले आनी चाहिए, अब इस आक की जड़ को लाकर शिवजी के मंदिर में शिवलिंग के ऊपर 21 बार घूमना चाहिए और फिर इसे लाल कपड़े में बांधकर औरत के कमर पर बांध देना चाहिए।

इसी बीच आपको मन ही मन पुत्र प्राप्ति की कामना भी करनी चाहिए, अब आपको एक महीने तक रोजाना पीपल के पत्ते को शिवजी पर चढ़ाना चाहिए इसके लिए आपको एक पीपल का पत्ता लेना चाहिए और उस पर ‘ऊं नमः शिवाय’ लिखकर शिवलिंग पर चढ़ा देना चाहिए।

फिर उसे कुछ देर बाद उठा लेना चाहिए और घर पर आकर उसे दूध में उबालना चाहिए, जब दूध ठंडा हो जाये तो उस दूध को दोनों लोगों को रात में पीना चाहिए ऐसा लगातार एक महीने तक करना चाहिए जब आप गर्भवती हो जाये तो आपको जड़ को हटाना नहीं बल्कि 3 महीने तक बांधे रखना चाहिए, इस तरह आपका बच्चा और आप स्वस्थ रहेंगे।

6. ब्राह्मण का उपाय

यह उपाय आपको सोमवार की अष्टमी को करना चाहिए अगर किसी कारण वश आप उस दिन नहीं कर पाते हैं तो आप सोमवार को कर सकते हैं इससे आपको पुत्र की प्राप्ति हो जाएगी, इसके लिए आपको ब्राह्मण और ब्राह्मण के परिवार को बेलपत्र के पेड़ के नीचे खीर खिलानी चाहिए, जब ब्राह्मण खीर खा लें।

तो आपको उसी पेड़ के नीचे घी का दीपक जलाना चाहिए और उनकी झूठी खीर को खुद उसी पेड़ के नीचे बैठकर खा लेनी चाहिए और मन ही मन पुत्र प्राप्ति की कामना करनी चाहिए, अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको 3 महीने के अंदर खुशखबरी मिल जाएगी क्योंकि इस उपाय से भोलेनाथ आप पर बहुत जल्दी खुश हो जाते हैं और इससे आपको पुत्र प्राप्त होता है।

7. आटे के शिवलिंग का उपाय

यह उपाय आपको सावन में करना चाहिए, अगर आप नहीं कर पा रहे हैं तो सोमवार को कर सकते हैं इसके लिए पति पत्नी दोनों को सोमवार वाले दिन व्रत रहना चाहिए और फिर गेहूं के आटे के 11 पार्थिव शिवलिंग बनाने चाहिए और फिर उन शिवलिंग का अभिषेक करना चाहिए और महिमा शिवस्रोत का पाठ करना चाहिए।

इस तरह आप 11 बार शिवजी का अभिषेक करेंगे और शिवस्रोत पाठ करेंगे, अगर आप यह नहीं कर पा रहे हैं तो आप किसी पंडित को भी बुला सकते हैं अब अभिषेक किए हुए जल को पति पत्नी दोनों को पीना चाहिए, फिर शाम के समय आपको इन शिवलिंग को किसी नदी में बहा देना चाहिए।

अगर नदी में नहीं बहा पा रहे हैं तो आपके घर पर ही बर्तन में पानी भरकर उस पानी को पीपल के पेड़ के नीचे डाल देना चाहिए, आपको यह काम 21 दिन तक लगातार करना है अगर नहीं कर पा रहे हैं तो 21 सोमवार तक करें अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी, क्योंकि यह उपाय शिव पुराण में बहुत ही फलदायी बताया गया है।

8. बांस के पत्ते का उपाय

अगर आपको पुत्र नहीं हो रहा है और आप चाहते हैं कि आपको पुत्र हो जाये तो इसके लिए आपको शिव पुराण में लिखें इस उपाय को जरूर करना चाहिए, इससे आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी इसके लिए आपको शिवलिंग का बांस के पत्ते से अभिषेक करना चाहिए।

आप चाहे तो बांस के पत्ते को पहले पीस लें और फिर दूध में मिलाकर शिवलिंग का अभिषेक करें या फिर दूध और जल से अभिषेक करें फिर बाद में आपको बांस के पत्ते को चढ़ा देना चाहिए, अगर आप ऐसा नियमित रूप से करेंगे तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होगी यह उपाय बहुत ही सरल और फलदायी होता है।

9. शिवलिंग की पूजा करें

यदि आप चाहते हैं कि आपको पुत्र हो जाये तो आपको रोजाना शिवलिंग की पूजा करनी चाहिए, इसके लिए ब्रह्म मुहूर्त में उठकर आपको शिवजी के मंदिर जाना चाहिए और वहां पर विधिपूर्वक पूजा करनी चाहिए और मन ही मन पुत्र प्राप्ति की कामना करनी चाहिए।

इसी के साथ आपको गेहूं के कुछ दाने शिवजी को अर्पित करने चाहिए और शिव मंत्र का जाप करना चाहिए, अगर आप ऐसा रोजाना करते हैं तो आपको पुत्र की प्राप्ति जरूर होती है।

10. कलश का उपाय

अगर आपको पुत्र नहीं हो रहा है और आप पुत्र प्राप्ति चाह रहे हैं तो आपको इस उपाय को वैशाख महीने में ही करना चाहिए, यह उपाय आप किसी और महीने में नहीं कर सकते हैं आपको वैशाख महीने में सोमवार या अष्टमी वाले दिन इस उपाय को करना चाहिए इसके लिए आपको एक छोटा मिट्टी का कलश बनाना चाहिए।

और एक तांबे का कलश लेना चाहिए, अब दोनों में पानी भरकर उसे लेकर किसी ऐसे पेड़ के नीचे जाना चाहिए जहां पर शिवजी की मूर्ति स्थापित हो, अब आपको सीधे हाथ से मिट्टी के कलश का जल शिवजी पर चढ़ाना चाहिए और उल्टे हाथ से तांबे के जल को शिवजी पर चढ़ाना चाहिए।

और जल चढ़ाते समय आपको प्रजापति दक्ष उनकी पत्नी और माता सती को याद करना चाहिए इसी के साथ मन ही मन पुत्र प्राप्ति की कामना करनी चाहिए फिर बाद में उसी जल को पति पत्नी दोनों को उसी पेड़ के नीचे पी लेना चाहिए, अगर आप ऐसा करेंगे तो आप पर शिवजी जल्दी प्रसन्न होगें और इससे आपको पुत्र प्राप्त होगा।

11. धतूरे का उपाय

कहते हैं शिवजी को धतूरा बहुत ही प्रिय होता है अगर आप पुत्र प्राप्ति चाहते हैं तो इसके लिए आपको हर सोमवार को शिवजी का धतूरा चढ़ाना चाहिए और अगर आप रोजाना शिवजी पर धतूरा चढ़ा सकते हैं तो यह बहुत ही अच्छा होता है इसी के साथ आपको पुत्र प्राप्ति की कामना भी करनी चाहिए, अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको जल्द ही पुत्र की प्राप्ति हो जाएगी।

12. बेलपत्र का उपाय

यह तो हम सभी को पता है कि शिवजी को बेलपत्री बहुत ही प्रिय है इसी के साथ शिव पुराण में लिखा है अगर आप संतान की प्राप्ति चाहते हैं अगर आप चाहते हैं कि आपको पुत्र हो जाये तो इसके लिए आपको रोजाना शिवजी पर पूरी श्रद्धाभाव से बेलपत्र चढ़ानी चाहिए।

इसी के साथ कामना करनी चाहिए कि आपको पुत्र हो जाये, अगर आप ऐसा नियमित रूप से करेंगे तो आप पर शिवजी जल्दी प्रसन्न हो जाएंगे और आपकी इस कामना को वह जल्दी ही पूरा कर देंगे।

13. कन्याओं को भोजन करायें

अगर आप चाहते हैं कि आपको पुत्र हो जाये तो इसके लिए आपको सावन माह के सोमवार को व्रत रखना चाहिए इसी के साथ पहले सोमवार को शिवजी की विधिपूर्वक पूजा करनी चाहिए और फिर 21 कन्याओं को भोजन करना चाहिए, अगर आप ऐसा करेंगे।

तो आपकी मनोकामना जल्दी ही पूरी हो जाएगी क्योंकि शिवजी अपने भक्तों पर बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और वह अपने भक्तों की सभी इच्छाओं को पूरा करते हैं जिससे आपको जल्दी ही पुत्र की प्राप्ति होगी, क्योंकि वह एक ऐसे देवता है जो अपने भक्तों के जीवन में आये सारे दुखों का नाश करते हैं।

14. लड्डू गोपाल का उपाय

अगर शिव पुराण की बात की जाये तो उसमें जो भी लिखें उपाय महिला श्रद्धापूर्वक करती है तो उसे पुत्र की प्राप्ति जरूर होती है उसी में एक लड्डू गोपाल से जुड़ा भी उपाय लिखा है।

आपको अपने घर में लड्डू गोपाल की स्थापना करनी चाहिए और फिर उनकी रोजाना पुत्र की भांति पूजा करनी चाहिए, इसी के साथ आपको उन्हें रोजाना तुलसीदल, माखन मिश्री अर्पित करना चाहिए अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको जल्दी ही पुत्र की प्राप्ति हो जाएगी।

इनको भी जरुर पढ़े: